सांसद दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा आगमन राष्ट्रपति को लिखा पत्र

सेंट्रल यूनिवर्सिटी का नाम संत कबीर दास और भारतीय राष्ट्रीय रक्षा विवि का नाम राव तुलराम रखने की मांग

0
979
Buzzing Chandigarh (Poonam) हिसार, 13 जुलाई: इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा के एक मात्र केंद्रीय विश्वविद्यालय का नाम शिरोमणि संत कबीर दास और गुडग़ांव में राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय राव तुलाराम के नाम पर रखने की मांग की है। प्रदेश के दोनों विश्वविद्यालयों का नाम बदलने को लेकर दुष्यंत चौटाला ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक पत्र लिखा है।
सांसद दुष्यंत चौटाला ने पत्र में कहा है कि हरियाणा में एक मात्र केंद्रीय विश्वविद्यालय महेंद्रगढ़ जिले के गांव जंट पाली में स्थित है जिसका नाम सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ हरियाणा है। दूसरा विश्वविद्यालय केंद्रीय सरकार द्वारा गुडग़ांव में इंडियन नेशनल डिफेंस यूनिवर्सिटी 2015 से प्रस्तावित है। युवा सांसद ने कहा है कि संत शिरोमणि कबीर दास जी और राव तुलराम का राष्ट्र को दिए योगदान को अतुलनीय सर्वविदित है। संत शिरोमणि कबीर दास जी ने अपने दोहों और दार्शनिक विचारों से जहां सामाजिक एकजुटता, समरसता, जागरूकता और शिक्षा की अलख जगाई वहीं राव तुलाराम ने प्रथम स्वंतत्रता के दौरान प्रमुख भुमिका निभाई थी। देश के प्रथम स्वंतत्रता संग्राम में राव तुलाराम की बहादुरी युवाओं के लिए आधुनिक युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत हैं।
सांसद ने राष्ट्रपति से मांग की है कि संत शिरोमणि संब कबीर दास और रावतुला राम के राष्ट्र के प्रति दिए गए अतुलनीय योगदान को ध्यान में रखते हुए महेंद्रगढ़ के केंद्रीय विश्वविद्यालय का नाम संत कबीरदास सेंट्रल यूनिवर्सिटी और गुडग़ांव के डिफेंस विश्वविद्यालय का नाम राव तुलाराम नेशनल डिफेंस यूनिवर्सिटी रखा जाना चाहिए। यह कदम न केवल महापुरूषों के लिए सच्ची श्रद्धाजंलि होगी वरन युवााओं के लिए यह प्रेरणा स्तंभ होंगे। दुष्यंत ने कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हरियाणा आगमन के दौरान विश्वविद्यालयों का नाम उपरोक्त महापुरूषों के नाम पर रखने का सुनहरा अवसर है। यहां बता दें कि महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 15 जुलाई को फतेहाबाद में संत शिरोमणि सतगुरू कबीर साहेब के 620 वें प्रकट दिवस पर बतौर मुख्य अतिथि आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here