सडक़ परिवहन सुविधाएं यात्रियों के लिए अधिक लाभप्रद होंगी

0
390
चंडीगढ़, 29 अक्तूबर: नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर के उस बयान की कड़ी निंदा की है जिसमें उन्होंने कहा है कि निजीकरण से सडक़ परिवहन सुविधाएं यात्रियों के लिए अधिक लाभप्रद होंगी।
उन्होंने इस बात पर खेद व्यक्त किया कि राज्य के मुख्यमंत्री ने हरियाणा रोडवेज व्यवस्था को सुधारने के प्रयास करने की बजाए उसके स्थान पर निजीकरण के विकल्प को उचित ठहराया है। इससे भी अधिक खेद की बात यह है कि उन्होंने परिवहन के निजीकरण के साथ-साथ यह तर्क भी दिया कि शिक्षा के साथ स्वास्थ्य सुविधाओं के निजीकरण से राज्य के लोगों को लाभ पहुंचा है।  नेता विपक्ष ने कहा कि ऐसा लगता है कि मुख्यमंत्री की खुशहाल हरियाणा की तस्वीर में उन गरीबों के लिए कोई स्थान नहीं है जिन्हें शिक्षा के लिए सरकारी स्कूलों और स्वास्थ्य के लिए सरकारी अस्पतालों पर निर्भर होना पड़ता है। जहां सरकार की प्राथमिकता यह होनी चाहिए कि न केवल शिक्षा और स्वास्थ्य में अधिक निवेश कर उसे बेहतर बनाया जाए वहीं सडक़ परिवहन में भी आवश्यक प्रबंधन संबंधी और साधनों संबंधी सुधार भी करने चाहिए। ऐसा लगता है कि चूंकि भाजपा की सरकार धनीवर्ग से ही संबंधित इस लिए उसकी नजर में गरीबों को न तो जीने का अधिकार है और न ही अच्छी शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाएं और सस्ते परिवहन की आवश्यकता है।
इनेलो नेता ने याद दिलाया कि चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के मुख्यमंत्री काल में हरियाणा रोडवेज रिकोर्ड मुनाफा देती थी उसे पूरे देश में उदाहरण के तौर पर देखा जाता था। किन्तुु भाजपा सरकार के कार्यकाल में राज्य की प्राथमिकताएं बदलकर अब केवल संपन्न समाज के कल्याण के लिए ही रह गई हैं। सरकार की आलोचना करने के साथ-साथ नेता विपक्ष ने एक बार फिर सरकार से कहा है कि वह अपनी हठधर्मिता छोड़ कर हड़ताल पर गए कर्मचारियों के साथ बातचीत कर उचित मार्ग तलाश करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here