बारिश में भी अविनाश सिंह शर्मा की भूख हड़ताल जारी

0
389

Buzzing Chandigarh Dec,12 :(Poonam)  जेल से बाहर आने के बाद अविनाश शर्मा ने चंडीगढ़ के गांव – गांव में जाकर भूख हड़ताल पर बैठने का काम शुरू किया हुआ है वे प्रत्येक दिन एक नए गांव में जाकर भूख हड़ताल कर रहे हैं। 11-12-2018 तारीख को अविनाश सिंह शर्मा कैम्बाला गांव में भूख हड़ताल पर बैठे थे । अविनाश सिंह शर्मा के साथियों द्वारा घर-घर जाकर हाई कोर्ट की जजमेंट की कॉपियां दी गई और बताया “द न्यू पंजाब कैपिटल (पैरफेरी) कंट्रोल एक्ट 1952” के लिए हाई कोर्ट के जजो ने कहा यह कानून यू,टी चंडीगढ़ के लिए नहीं है  उसके बाद जल्द से जल्द भाजपा के नेता नगर निगम में गांव को शामिल करने में लग गए । यह कानून चंडीगढ़ की सीमा के 16 किलोमीटर बाहर में लागू होता है चंडीगढ़ की बाउंड्री के अंदर नहीं लागू होता । जब कैम्बाला के नौजवानों को और बुजुर्गों को बात समझे उनमें आक्रोश पैदा हो गया और उन्होंने कहा कैम्बाला के लोगों से बहुत बड़ा धोखा हुआ है इस बार कैम्बाला में इन कांग्रेस – भाजपा को घुसने नहीं दिया जाएगा एवं 2019 में इन पार्टियों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा । कैम्बाला के लोगों ने अविनाश शर्मा के रात को रुकने के लिए रजाई और गधों की भी व्यवस्था की और सुबह आज सुबह किशनगढ़ गांव में सरकारी मॉडल स्कूल के सामने भूख हड़ताल पर बैठ गए और किशनगढ़ के लोगों को भी आज जागृत करने का काम किया किशनगढ़ के निवासियों ने बताया यहां पर लाल डोरे के अंदर बहुत कम मकान है और बाकी सारी अबादी लाल डोरे के बाहर है । राजनीतिक पार्टियों ने उनको कई सालों डरा कर उनका मानसिक और आर्थिक शोषण किया है आने वाले 2019 के चुनावों में इन सभी पार्टियो सबक सिखाएंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here