पंजाब सहित पूरे ट्राई सिटी में आतंक के दूसरे नाम दिलप्रीत बाबा को गोली मार किया गया गिरफ्तार

स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल व चंडीगढ़ की क्राइम ब्रांच की ज्वाइंट टीम ने दिया वारदात को अंजाम

0
440
Buzzing Chandigarh चंडीगढ़।(दिग्विजय मिश्रा )पंजाब सहित पूरे ट्राई सिटी में आतंक का दूसरा नाम बने गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा को पंजाब के स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल व चंडीगढ़ की क्राइम ब्रांच की ज्वाइंट टीम ने सेक्टर ४३ बस स्टैंड के बैग साइड के पास से मुठभेड़ कर गिरफ्तार कर लिया। मुठभेंड के दौरान गैंगस्टर की तरफ से पहले फाएरिंग की गई जिसके जबाब में जबाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम की तरफ से तीन राउंड फायरिंग किया गया जिससे गैंगस्टर के कमर के नीचे एक गोली लगने से वह बुरी तरह से लहुलूहान हो कर अपनी कार के सिट से बाहर गिर गया। जिसे गिरफ्तार कर पीजीआई में भर्ती कराया गया जहां उसकी इलाज जारी है। गौरतलब हो कि पंजाब पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा चंडीगढ़ में किसी बडे वारदात को अंजाम देने के लिए आने वाला है पंजाब पुलिस ने फौरन बस स्टैंड के बैग साइड नाका लगाकर रेकी जारी कर दी। जैसे ही दिलप्रीत बाबा अपनी कार स्विफ्ट डिजायर से नाके पास पहुचने ही वाला था कि पंजाब पुलिस के किसी पुलिस कर्मी ने कार के कांच पर पत्थर फेंका जिसके तुरंत बाद गैंगस्टर ने फाएरिंग शुरू कर दी पुलिस सूत्रों की माने तो जबाबी कार्रवाई करते हुए स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल पंजाब के डीएसपी राकेश यादव ने तीन राउंड गोली चलाई और चंडीगढ़ की क्राइम ब्रांच टीम के इंस्पेक्टर अमनजोत ने भी फाएरिंग शुरू कर दी दोनों तरफ से चल रहे फाएरिंग में एक गोली गैंगस्टर के कमर के नीचे लगी और व बुरी तरह से घायल हो गया। जिसे पीजीआई में भर्ती कराया गया है। ध्यान रहे कि अभी हालही में सिंगर परमीश वर्मा पर हमला कर लहुलूहान करने वाला यही गैंगस्टर है जिसे गिरफ्तार किया है।
मुठभेड़ में गोली मार किया गया गैंगस्टर को गिरफ्तार
इस दौरान पुलिस और दिलप्रीत बाबा के बीच मुठभेड़ हुई, जिसके दौरान दिलप्रीत को गोलियां लगी और वह बुरी तरह से लहुलूहान हो गया। जिसे उपचार के लिए पीजीआई में भर्ती कराया गया है। वारदात की सूचना मिलते ही आला अधिकारी वारदात स्थल पर पहुंच कर वारदात का जायजा लिया। एस.एस.पी. चंडीगढ़ निलांबरी जगदाले ने बताया कि मोहाली और पंजाब पुलिस की जॉइंट ऑप्रेशन टीम को सूचना मिली थी कि दिलप्रीत एक स्विफ्ट डिजायर कार में सवार चंडीगढ़ की तरफ जा रहा है। जिसके बाद नाकेबंदी कर दिलप्रीत को सैक्टर-43 बस स्टैंड के पास घेराबंदी कर दबोचना चाहा लेकिन दिलप्रीत ने पुलिस को देख फायरिंग शुरू कर दी पुलिस ने जवाबी फायर किया और दिलप्रीत के पैर पर लगभग दो से तीन गोलियां लगी पुलिस ने घायल अवस्था में दिलप्रीत को काबू किया और पीजीआई के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया जहां उसका उपचार चल रहा है।
वारदात स्थल से बरामद हुई पिस्टल कारतूस और कार
पुलिस को वारदात स्थल से एक पिस्टल जिंदा कारतूस, चले कारतूस और एक स्विफ्ट डिजायर कार बरामद हुई है। जिस कार में गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा सवार होकर चंडीगढ़ आया था। मौके पर बरामद हुई सामान को पुलिस अपने कब्जे में लेकर तफ्तीश शुरू कर दी है। बता दें कि सरपंच सतनाम हत्या मामले में पिछले करीब 2 साल से पुलिस को दिलप्रीत बाबा की तलाश थी। कई पंजाबी सिंगरों को धमकी दिए जाने के मामले में भी दिलप्रीत बाबा पिछले काफी समय से सुर्खियों में रहा है।
डीएसपी के एरिए में हुई इतनी बड़ी वारदात डीएसपी के कानो कान खबर नही ?
सवाल यह भी सामने आ रहा है कि डीएसपी हरजीत कौर के एरिए में इतनी बड़ी वारदात को अंजाम दिया गया और उनके कानो कान  खबर तक नही गई। हालांकि इस विषय में कोई भी अधिकारी साफ- साफ बोलने को तैयार नही है। अधिकारियों का कहना है कि इस मुठभेड़ में एक गैंगस्टर को गोली लगी है और उसे गिरफ्तार किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here