‘जलयुद्ध संघर्ष’ में गिरफ्तारी देने वालों मे चौधरी अभय सिंह चैटाला

0
639
Buzzing Chandigarh (Poonam)कुरुक्षेत्र, 18 मई: इनेलो बसपा गठबंधन की प्रदेश में सरकार बनने पर युवाओं को बेरोजगारी भत्ता 15 हजार रुपये और बुजुर्गों को 2500 रुपये पैंशन दी जाएगी। यह बात एसवाईएल, मेवात कैनाल व दादूपुर-नलवी के निर्माण के लिए हो रहे इस ‘जलयुद्ध संघर्ष’ में गिरफ्तारी देने वालों मे चौधरी अभय सिंह चैटाला ने आज कुरुक्षेत्र में कही। उन्होंने कहा कि 10 साल कांग्रेस के धोटालों और भ्रष्टाचार से परेशान जनता के पास विकल्प न होने के कारण मजबूरी में भाजपा को चुना गया था लेकिन आज देश के पास बहन मायावती के नेतृत्व में तीसरे मोर्चे का विकल्प मौजूद है। तीसरे मोर्चे के गठन का एकमात्र लक्ष्य साम्प्रदायिक और भ्रष्टाचारी ताकतों को सत्ता से दूर रखना है।
कुरुक्षेत्र सचिवालय के घेराव से पहले नेता विपक्ष ने लोगों को आश्वसत किया कि उनका संघर्ष व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने लोगों को याद दिलाया कि जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार घोषित किए गए थे तो उन्होंने भूतपूर्व सैनिकों से वादा किया था, वन रैंक वन पैंशन दी जाएगी पर यह वायदा पूरा नहीं हुआ। देश व प्रदेश के रिटायर्ड सैनिक आज भी पार्लियामेंट स्ट्रीट पर धरना दिए हुए हैं। साथ मोदी जी युवाओं के साथ भी छल किया है। हर साल दो करोड़ रोजगार की बात कर, आज युवाओं को पकौड़े बेचने की सलाह देकर अपमानित करने का काम कर रहे हैं। खुद को किसानों का हितैषी बताने वाले प्रधानमंत्री ने यह भी वादा किया था कि केंद्र में अगर भाजपा सरकार बनती है तो वह फसलों के समर्थन मूल्य पर पचास फिसदी लाभ देगी। लेकिन लाभ तो दूर की बात है भाजपा सरकार किसानों को सही लागत मूल्य भी नहीं दे पाई। उन्होंने यह भी कहा कि खुद को गरीब कहने वाले नरेंद्र मोदी ने गरीब जनता को जन-धन खातों में पंद्रह  लाख रुपए दिए जानेे का झूठ बोलकर भरमाने का प्रयास किया था जिसके चलते जनता ने उनकेे जुमलों पर यकीन कर  सत्ता उनके हाथ मेें सौंप थी।
इससे पूर्व बसपा के प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती ने कहा कि इनेलो-बसपा गठबंधन से भाजपा व कांग्रेस दोनों दल भयभीत है जो दर्शाता है कि जब किसान और कमेरा एक हो जाएं तो टाटा, बाटा, अडानी, अंबानी आदि के सहयोगियों का वजूद खतरे में है। उन्होंने यह भी कहा कि मोदी 2014 चुनाव से पहले काला धन लाने की बात किया करते थे, लेकिन सत्ता के बाद देश का ही धन उनके चहेते नीरव मोदी और विजय मालिया बाहर ले उड़े। उन्होंने प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर भी गंभीर चिंता व्यक्त की और कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा देने वालों के राज में न तो बेटियां सुरक्षित हैं न ही दलित।
इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अरोड़ा ने कहा कि भाजपा ने देश की जनता को धोखा दिया है। सुप्रीम कोर्ट का फैसला हरियाण के हक में आने के बावजूद भी भाजपा ने एसवाईएल नहर का निर्माण नहीं करवाया। जिससे स्पष्ट है कि चाहे भाजपा हो या फिर कांग्रेस प्रदेश के हिस्से का पानी हरियाणा को मिले यह किसी की भी दल को प्राथमिता नहीं थी। दादूपुर नलवी नहर का निर्माण चौधरी ओम प्रकाश चौटाला ने शुरू करवाया था, लेकिन भाजपा किसानों की उस सिंचाई और भूमिगत जल स्तर को बढाने वाली जीवन रेखा को भी समाप्त करना चाहती है। एसवाईएल के मामले में सुप्रीम कोर्ट का आर्डर लागू न करना सरासर भाजपा की बेईमानी को दर्शाता है।
इस मौके पर लगभग 1200 लोगों ने गिरफ्तारियां दी, जिनमें इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, बसपा प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती, पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा, उपनेता प्रतिपक्ष जसविंद्र संधु, सांसद चरणजीत रोड़ी व रामकुमार कश्यप, विधायक रणबीर प्रजापति, परमेंद्र ढुल, नसीम अहमद व मक्खन लाल सिंगला, जिलाध्यक्ष कुलदीप मुल्तानी, रामकरण काला, बीएसपी नेता नरेंद्र प्रजापति, रोहताश रंगा व मान सिंह सहित अनेकों इनेलो-बसपा नेता भी शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here