किसानों के आंकड़ों को लेकर सांसद दुष्यंत ने लोकसभा में उठाया सवाल

0
333
Buzzing Chandigarh (Poonam)  नई दिल्ली, हिसार, 7 अगस्त। केंद्र सरकार द्वारा हरियाणा में किसानों को लेकर दिए गए आंकड़ों पर सवालिया निशान लग गए हैं। इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने मंगलवार को लोकसभा में प्रस्तुत आंकड़ों को लेकर कहा कि प्रदेश में किसानों की संख्या 16 लाख 71 लाख है दूसरी ओर केंद्र द्वारा प्रस्तुत किए गए आंकड़ों में किसानों की संंख्या 21 लाख 54 हजार बताई गई है। उन्होंने केंद्र सरकार से पूछा कि हरियाणा की सरकारी वेबसाईट पर किसानों की कुल संख्या में 16 लाख 72 हजार है तो ई नेम पर 21 लाख 54 हजार किसानों का पंजीकरण कैसे कर दिया।
आंकड़ों के इस अंतर का जवाब केंद्रीय मंत्री लोकसभा में नहीं दे सके।
सांसद दुष्यंत चौटाला ने ई नेम ऐप पर आढ़तियों का पंजीकरण करने से उनकी दुकान पर काम करने वाले लोगों के बेरोजगार होने की भी अशंका जताई। युवा सांसद ने कहा कि हरियाणा में 38 हजार आढ़ती हैं और इन आढ़तियों की दुकान पर काम करने वाले लोगों की संख्या लगभग 2 लाख है। दुष्यंत ने ई नेम पर आढ़तियों के पंजीकरण होने के बाद  दो लाख लोगों के रोजगार संकट को लेकर सरकार से सवाल किया कृषि मंत्रालय ने इनके रोजगार के लिए क्या योजना बनाई है।
 इनेलो संसदीय दल के नेता व सांसद दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा में हरियाणा सरकार के अधिकृत आंकड़ों बताते हैं कि हरियाणा में 16 लाख 71 हजार किसान हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां किसान खेती को छोड़ रहा है तो फिर 21 लाख 54 हजार किसानों का पंजीकरण ई-नेम पर कैसे हो गया। उन्होंने कहा कि इनमें केवल 4 हजार किसान ऐसे हैं जिन्होंने ई नेम एप के माध्यम से ट्रेडिंग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here